Wednesday, January 23, 2008

महात्मा गाँधी



खान भाईयों के साथ उ० प० सीमा प्रांत मे



अफगानिस्तान सीमा पर




इतिहास के किस बिन्दु पर इतनी महान आत्माएं एक साथ एक मंच पर दिखतीं हैं




अकेला मसीहा नफ़रत के खिलाफ मोर्चा लिए हुए, बंगाल में एकला चलो रे!

सेवा !


इंदिरा के साथ


बा और बापू १९३८



रहनुमा की रहनुमाई, भविष्य के हाथों में कमान


स्निग्ध मुस्कराहट


लार्ड माउन्टबेटन और एड्विना के साथ


नेहरू और गाँधी

कस्तुरबा गाँधी और महात्मा गाँधी (बा और बापू )




युवा मोहनदास करमचन्द्र गाँधी

Read more...

हमारे जीवन से प्रकाश चला गया : नेहरू


Read more...

१५ अगस्त का पेपर


Read more...

रात के बारह बजे


रात के बारह बजे नेहरू ने स्वतंत्र भारत के प्रधान मंत्री के रुप मी शपथ ली अगस्त १५, १९४७

Read more...

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP